Sant Shri
  Asharamji Ashram

     Official Website
 

Register

 

Login

Follow Us At      
40+ Years, Over 425 Ashrams, more than 1400 Samitis and 17000+ Balsanskars, 50+ Gurukuls. Millions of Sadhaks and Followers.

 

Diwali Bhandara Images
/Portals/9/UltraPhotoGallery/6156/1331/thumbs/15526.DSC_0281.JPG
DSC_0281
10/26/2011 12:14:00 PM
DSC_0382
10/26/2011 5:23:00 PM
DSC_0381
10/26/2011 5:23:00 PM
DSC_0196
10/26/2011 12:04:00 PM
DSC_0380
10/26/2011 5:22:00 PM
DSC_0379
10/26/2011 5:22:00 PM
DSC_0378
10/26/2011 5:22:00 PM
DSC_0377
10/26/2011 5:22:00 PM
DSC_0372
10/26/2011 5:21:00 PM
DSC_0346
10/26/2011 4:43:00 PM
DSC_0265
10/26/2011 12:13:00 PM
DSC_0258
10/26/2011 12:12:00 PM
DSC_0255
10/26/2011 12:12:00 PM
DSC_0249
10/26/2011 12:12:00 PM
DSC_0231
10/26/2011 12:10:00 PM
DSC_0202
10/26/2011 12:05:00 PM
DSC_0151
10/26/2011 11:54:00 AM
DSC_0148
10/26/2011 11:54:00 AM
DSC_0141
10/26/2011 11:53:00 AM
DSC_0005
10/26/2011 10:50:00 AM
DSC_0139
10/26/2011 11:51:00 AM
DSC_0138
10/26/2011 11:50:00 AM
DSC_0137
10/26/2011 11:50:00 AM
DSC_0131
10/26/2011 11:48:00 AM
DSC_0111
10/26/2011 11:46:00 AM
DSC_0100
10/26/2011 11:45:00 AM
DSC_0024
10/26/2011 11:00:00 AM
DSC_0083
10/26/2011 11:43:00 AM
DSC_0080
10/26/2011 11:42:00 AM
DSC_0070
10/26/2011 11:41:00 AM
DSC_0063
10/26/2011 11:40:00 AM
DSC_0051
10/26/2011 11:34:00 AM
DSC_0050
10/26/2011 11:33:00 AM
DSC_0047
10/26/2011 11:30:00 AM
DSC_0046
10/26/2011 11:30:00 AM
DSC_0045
10/26/2011 11:29:00 AM
DSC_0043
10/26/2011 11:28:00 AM
DSC_0026
10/26/2011 11:00:00 AM
DSC_0023
10/26/2011 11:00:00 AM
DSC_0006
10/26/2011 10:50:00 AM
DSC_0004
10/26/2011 10:50:00 AM
DSC_0044
10/26/2011 11:28:00 AM
DSC_0087
10/26/2011 11:43:00 AM
DSC_0058
10/26/2011 11:40:00 AM
Share Pictures

 Email the pictures or videos of the bhandaras and other service activities organized by your samiti or ashram at events@ashram.org

Bhandara Video

Article List
दिवाली भंडारा सेवाकार्य

  दमोह  ( म.प्रदेश )   यहाँ   पूज्यश्री   का   सत्संग   का   आयोजन   किया   था  |  बापूजी   के   आदेशानुसार   वहाँ   के ...
Read More..


प्रश्नोत्तरी

  आप   लोग   ये   जो   सेवा   कर   रहे   हैं   उसका   उद्देश्य   क्या   है ..  
Read More..


पूजन एवं हवन विधि

  आचमन: निम्न मंत्र पढ़ते हुए तीन बार आचमन करें |  ‘ॐ केशवाय नम:, ॐ नारायणाय नम:, ॐ माधवाय नम: | फिर यह मंत्र बोलते हुए हाथ धो लें | ॐ हृषीक...
Read More..


पूज्यश्री का संदेश

  "यह  (चारित्रिक)  आरोप बेबुनियाद हैं, साजिश  है | मेरी सच्चाई मेरे साथ है | भारतीय संस्कृति  के खिलाफ बड़ा गहरा षड्यंत्र चल रहा हैं | अत: भारत के...
Read More..


सुप्रचार कैसे करें ?

  पूज्य बापूजी कि दीपावली पर पावन संदेश "सभी साधक पहले जैसे दीपावली मनाते थे, अभी भी वैसे ही मनाये | जो आत्मा अंदर है, वही आत्मा बाहर भी है | मैं ...
Read More..


Read Article
पूज्यश्री का संदेश

पूज्यश्री का संदेश 

"यह  (चारित्रिक)  आरोप बेबुनियाद हैं, साजिश  है | मेरी सच्चाई मेरे साथ है | भारतीय संस्कृति  के खिलाफ बड़ा गहरा षड्यंत्र चल रहा हैं | अत: भारत के सभी  हितैषियों को एकजुट होना पड़ेगा |" - पूज्य बापूजी 

(वर्ष २००४ में साधकों व देशवासियों को सचेत करते हुए पूज्य बापूजी ने अभी हो रहे षडयंत्रों  की भविष्यवाणी की  थी और यह संदेश दिया था | )

भारत के सभी हितैषियों को एकजुट होना पड़ेगा | भले आपसी कोई मतभेद हो किन्तु संस्कृति की रक्षा में हम  सब एक हो जायें | कुछ लोग किसीको भी मोहरा बनाकर दबाव डालकर हिन्दू संतों 
और हिन्दू संस्कृति को उखाड़ना चाहे तो हिन्दू अपनी संस्कृति को उखड़ने नहीं देगा | वे लोग मेरे दैवी कार्य में विघ्न डालने के लिए कई बार क्या-क्या षड्यंत्र क लेते हैं | लेकिन मैं इन सबको सहता हुआ भी संस्कृति के लिए काम किये जा रहा हूँ | स्वामी विवेकानंद ने कहा : "धरती पर से हिन्दू धर्म गया तो सत्य गया, शांति गयी, उदारता गयी, सहानुभूति गयी, सज्जनता गयी |"

हम चाहते हैं सबका मंगल हो | हम तो यह भी चाहते हैं  कि दुर्जनों को भगवान् जल्दी सदबुद्धि दें, नहीं तो समाज और न्यायपालिका सदबुध्दि दे |

जो जिस पार्टी में है ...पद का महत्त्व न समझो, अपनी संस्कृति का महत्त्व समझों पद आज है, कल नहीं रहेगा | लेकिन संस्कृति तो सदियों से तुम्हारी सेवा करती आ रही है | 'ॐ' का गुंजन करों, गुलामी के संस्कार काटो !

दुर्बल जो करता है वह निष्फल चला जाता है और लानत पाता है | सबल जो कहता है वह हो जाता है और उसका जयघोष होता है | आप सबल बनो !​

 


View Details: 7536
print
Copyright © Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved. The Official website of Param Pujya Bapuji